#160 मेरी परवाह नहीं॥

सबने उससे उसकी मुस्कान के बारे में पूछा।
मेरी चुप्पी की किसी को परवाह नहीं॥
~ मयंक

Leave a Reply