#322. मुद्दतों से बेठी हूँ चौखट पर तेरे इंतज़ार में।

मुद्दतों से बेठी हूँ चौखट पर तेरे इंतज़ार में।
दुनिया वाले लाख कहें तू लौटकर नही आएगा।
पर तेरे वादे पर विश्वाश इस दिल को आज भी है।।
<3 ©मयंक <3

image

Leave a Reply