#325. आज उसने ही लाठी के सहारे दुनिया में छोड़ दिया।

बचपन में जिसे लाठी बन
सहारा दिया था।।
आज उसने ही लाठी के सहारे
दुनिया में छोड़ दिया।
<3 ©मयंक <3

image

Leave a Reply