#349. तेरे इंतज़ार के पल कट नही रहें हैं।

तेरे इंतज़ार के पल कट नही रहें हैं।
यँहा हर एक पल सदियों से लम्बा हो चला है।
अच्छे खासे इंसान को ये मरीज़ बना दे।
खुदा जाने ये मोहब्बत केसी बला है॥
#मयंक

Leave a Reply