#401. तेरे नाम की माला।

मैं नाम तेरा जुबां पर आने नही देता।
वरना ये दिल तो तेरे नाम की माला हर पल जपता है॥
<3 ©मयंक <3

Leave a Reply