#440. कसमों की बंदिश….

Hum kasmon ki bandishon me kya jakde,
Tum khne lge, ki hum badal se gae h…

image

हम कसमों की बंदिशों में क्या जकड़े,
तुम कहने लगे, की हम बदल से गए है॥
<3 ©मयंक <3

0 thoughts on “#440. कसमों की बंदिश….”

Leave a Reply