#470. तेरी याद. ..

वक़्त-बे-वक्त तेरी याद सताती है।
ना जाने तुझसे ये दूरी इतना क्यूँ तड़पाती है ॥
<3 mयंक <3

image

0 thoughts on “#470. तेरी याद. ..”

Leave a Reply