#562. साहब टिकेट है फ़र्ज़ी….

Holi का Season चल रहा है। कल मैं Office से निकला और जल्दी से Anand Vihar Bus Stand पहुँचा और Moradabad की Bus में बैठा, और बैठते ही Bus Conductor ने कहा कि Ticket 250₹ का होगा, जबकि Ticket 180-181₹ का होता है। मैंने देखा किसी ने ये नही कहा कि इतने का टिकट कैसे, ज्यादा पैसे क्यों ले रहे हो, Bus पर लिखा था U.P Transport की बस है। और Bus भी Bus Stand के अंदर खड़ी थी, इसका मतलब ये था कि Private Bus नही है, पर फिर Ticket इतना महँगा कैसे। पर सच यही है हमारी मजबूरी का फायदा उठाने की कोशिस की गई, क्योंकि सबको घर जाना था, होली थी इसलिए किसी ने कुछ नहीँ कहा सबको इस भ्रष्टाचार से कोई फर्क नहीँ पड़ा, शायद मुझे भी नही। क्योंकि 250₹ का Ticket मैंने भी खरीदा। पर मैं जो कर सकता था वो किया, इनकी Compliant Mail ID पर Mail की, और Compliant Whatsapp No’ पे Msg किया, Msg seen भी हुआ, अब देखिये की कब तक Reply आता है। बस no’ था – H388. और Ticket भी देख लीजिए, Ticket भी फ़र्ज़ी है।।

———————————-

सर्जी,

टिकेट है फ़र्ज़ी।।

होली का Season है,

घर जाने का यही Reason है।

बस यही रही गिला,

180 का टिकट 250 में मिला।

अब किसे कन्हे की कौन सही कौन चोर है,

सब यँहा घूसखोर है।।

Bus में कोई नही श्रीष्टाचारी,

सब है इस जुल्म के भागीदारी।

💁mयंक

7 thoughts on “#562. साहब टिकेट है फ़र्ज़ी….”

Leave a Reply